Grace Period क्या होता है ? Credit Card और Insurance

Grace Period हमे आमतौर पर Insurance, Credit Card आदि में देखने को मिलता है । आज हम यह जानेंगे की Grace Period क्या होता है और यह क्यों दिया जाता है ।

अगर आपने कोई Insurance लिया है, तो आपको समय समय और इसके Premium का भुगतान करना होता है, जिसे भरने की एक Due Date होती है । लेकिन किसी वजह से अगर आप इस Due Date तक भुगतान नही कर पाते है, तो ऐसी स्थिति में Grace Period काफी उपयोगी होता है । इसी तरह Credit Card का Grace Period काफी महत्वपूर्ण होता है ।

तो Insurance, Credit Card और अन्य किसी Contract में Grace Period क्या होता है, आइए इसके बारे में जानते है ।

Grace period kya hota hai credit card insurance

Grace Period क्या है ? |What is Grace Period in Hindi

ग्रेस परियड किसी भुगतान तिथि के बाद का एक तय समय होता है, जिसके भीतर बिना किसी अर्थदंड के भुगतान किया जा सकता है । उदाहरण के लिए मान लीजिए आपको कोई payment करना है, जिसका आज आखिरी दिन बाकी है, लेकिन कंपनी आपको इसे पूरा करने के लिए 1 हफ्ते का अतिरिक्त समय दे देती है, तो यह अतिरिक्त समय Grace Period कहलाता है ।

Grace Period की परिभाषा विभिन्न प्रकार के Contracts में अलग अलग हो सकती है, लेकिन आमतौर यह एक समय अवधि होती है जिसके अंदर भुगतान या बकाया कार्य को पूरा करने के लिए अतिरिक्त समय दिया जाता है । इस Grace Period में भुगतान में देरी पर लगने वाले अर्थदंड या अन्य कार्यवाही से बचा जा सकता है ।

आमतौर पर कई सारे Loan, Insurance Policy, Credit Card और अन्य प्रकार के कुछ Agreement में Grace Period दिया जाता है, जिसके बारे में उनके Contract Note में जानकारी दी होती है ।

Credit Card में Grace Period क्या होता है ?

क्रेडिट कार्ड में ग्रेस पीरियड ग्राहकों के क्रेडिट कार्ड के स्टेटमेंट दिनांक से लेकर भुगतान बकाया दिनांक तक के कुछ दिनों का समय होता है । दूसरे शब्दों में Credit Card की Billing Cycle और Due Date के बीच का समय क्रेडिट कार्ड का Grace Period होता है ।

Credit Card का Grace Period इसके Billing Cycle के पूरा होते ही शुरू हो जाता है । बहुत से क्रेडिट कार्ड में Grace Period दिया जाता है ।

इस ग्रेस पीरियड में Credit Card Company द्वारा आपके बकाया balance पर Interest नही जोड़ा जाता है और आपको Due Date तक अपने Credit Card का Bill Payment भरना होता है ।

अगर आप Due Date तक Credit Card Bill नही भरते है, तो Due Date के बाद इसमें Compound Interest लगना शुरू हो जाता है और साथ ही इस Late Payment के लिए Penalty Charge भी लग जाता है ।

Credit Card के Grace Period और Late Payment Charges के बारे में पूरी जानकारी आप अपने Credit Card के Agreement में देख सकते है ।

यह भी जानिए –

» Flipkart Axis Bank Credit Card के फायदे, डॉक्यूमेंट, कैसे बनाये

Insurance Policy में Grace Period क्या होता है ?

Insurance में Grace Period उन अधिकतम अतिरिक्त दिनों की संख्या होती है, जो Insurance Company द्वारा Premium का भुगतान करने के लिए दिए जाते है । इस ग्रेस परियड में Policyholder अपने Premium का भुगतान कर सकते है, ताकि Coverage में होने वाले किसी Lapse से बचा जा सके ।

अगर Policyholder के द्वारा किसी कारणवश अपने Insurance का Premium भरने में देरी हो जाती है, तो Grace Period ऐसी स्थिति में तत्काल Policy Coverage का नुकसान हो जाने से सुरक्षा करता है ।

Grace Period की अवधि विभिन्न प्रकार की Insurance Policy के ऊपर निर्भर करती है, जिसके अनुसार Grace Period कम या ज्यादा हो सकता है ।

Share