इंटरनेट क्या हैं ? | Internet in Hindi

इंटरनेट क्या है ? आज हममें से बहुत से लोग इंटरनेट का उपयोग कर रहे है । एक समय था जब ईमेल, सोशल मीडिया ,फेसबुक, व्हाट्सएप्प नही हुआ करते थे, उस समय ये सब संभव नही था, लेकिन आज यह सब आधुनिक सुविधाएं इंटरनेट के द्वारा संभव हो रही है । स्मार्टफोन या कंप्यूटर पर इंटरनेट चलाना आजकल बहुत आम है । हमारी दुनिया में इंटरनेट की मदद से बहुत से काम किए जा रहे है । हम इंटरनेट से इस तरह जुड़ चुके है की आज हमारा इंटरनेट के बिना कुछ समय रह पाना बहुत मुश्किल हो जाता है । आज पूरी दुनिया इंटरनेट की मदद से जुड़ी हुई है और इस आधुनिक तकनीक के द्वारा बड़े स्तर पर जानकारी का आदान-प्रदान हो रहा है ।

आइए जानते है की इंटरनेट क्या है ? Internet Notes,  इंटरनेट के फायदे और नुकसान क्या है ? इंटरनेट आप के स्मार्टफोन या कंप्यूटर तक कैसे पहुचता है ।

परिभाषा – इंटरनेट क्या है ? | What is Internet in Hindi

इंटरनेट एक वैश्विक स्तर का नेटवर्क सिस्टम है, यह नेटवर्कों का नेटवर्क होता है जिसमे बहुत से कंप्यूटर नेटवर्क एक दूसरे से जुड़े होते है । यानी कोई यूजर इस नेटवर्क में जुड़े एक कंप्यूटर के जरिए किसी दूसरे कंप्यूटर से डेटा या जानकारी प्राप्त हो सकती है ।

internet notes in hindi

इंटरनेट को लोग आमतौर पर नेट के नाम से भी जानते है । इंटरनेट एक विश्व स्तर पर जुड़ने वाला नेटवर्क सिस्टम है , जो TCP /IP प्रोटोकॉल के जरिए बहुत से प्रकार का डेटा का आदान प्रदान करता है, TCP /IP इंटरनेट की भाषा मानी जाती है ।

इंटरनेट ने मनुष्य के जीवन के बहुत से कार्यों को आसान बना दिया है । आज इंटरनेट का उपयोग हर क्षेत्र में किया जा रहा है । आज के समय करोड़ों कंप्यूटर सिस्टम और अन्य इलेक्ट्रॉनिक उपकरण इंटरनेट से जुड़ चुके है ।

इंटरनेट के द्वारा बहुत सी सर्विस उपलब्ध होती है, जिनमे से कुछ लोकप्रिय सर्विस की लिस्ट नीचे दी गई है ।

  • ईमेल
  • ऑनलाइन शॉपिंग
  • नेट बैंकिंग
  • ऑनलाइन मनी ट्रांसफर
  • ऑनलाइन वीडियो स्ट्रीमिंग
  • ऑनलाइन गेमिंग
  • डेटा ट्रांसफर
  • इंस्टंट मेसेजिंग
  • सोशल मीडिया नेटवर्क

इंटरनेट कैसे चलता है ?

इंटरनेट पर जो भी सामग्री उपलब्ध होती है, उसका डेटा हमसे बहुत दूर किसी डेटा सेंटर में सुरक्षित रहता है । यह डेटा सेंटर हमसे बहुत दूर होते है, जहाँ से लंबा सफर तय कर कोई भी डेटा हमारे कंप्यूटर या स्मार्टफोन तक पहुचता है । डेटा के इस लंबे सफर में और इंटरनेट के संचालन में ऑप्टिक फाइबर केबल टेक्नोलॉजी एक बड़ा योगदान होता है । इस तरह इंटरनेट बहुत से ऑप्टिक फाइबर केबल, नेटवर्क ,टावर, ऑपरेटर , ISPs यानी इंटरनेट सर्विस प्रोवाइडर के जरिए होते हुए हमारे कंप्यूटर और स्मार्टफोन तक पहुचता है ।

इंटरनेट को आपके डिवाइस तक पहुँचाने में कुछ कंपनियाँ शामिल होती है, जिन्होंने इंटरनेट को एक जगह से दूसरी जगह पहुँचाने के लिए अपने कनेक्शन और हाई बैंडविड्थ डेटा लाइन्स बिछाई है । इन कंपनियों को Tier 1, Tier 2, Tier 3 में विभाजित किया जाता है । हम इंटरनेट चलाने के लिए जो शुल्क ( Charges ) देते है, वह इन कंपनियों में जाता है ।

Internet से जुड़ने के लिए ISP यानी इंटरनेट सर्विस प्रोवाइडर से कनेक्शन लिया जाता है । केबल या फाइबर कनेक्शन के जरिए कोई ISP ब्रॉडबैंड कनेक्शन देती है । Wi-Fi या मोबाइल नेटवर्क भी इंटरनेट सुविधा देने के लिए इंटरनेट सर्विस प्रोवाइडर से जुड़े होते है ।

जब भी हम किसी डिवाइस में इंटरनेट चला रहे है, या कोई भी डिवाइस जो इंटरनेट से कनेक्ट होता है, उसका एक IP Address होता है । आईपी एड्रेस इंटरनेट एक प्राथमिक भाग होता है, यह एड्रेस उस डिवाइस का पता या एक पहचान की संख्या होती है । इंटरनेट पर संचार के लिए आईपी एड्रेस के IPv4 ( Internet Protocol Version 4 ) और IPv6 वर्जन का प्रयोग होता है ।

इंटरनेट पर किसी वेबसाइट पर जाने के लिए उसका एड्रेस डाला जाता है , यह अड्रेस URL / यूआरएल कहलाता है ।

इंटरनेट का मालिक कौन है ?

इंटरनेट का नेटवर्क किसी मोबाईल कंपनी की तरह नही होता, जिसका संचालन कोई एक कंपनी करती है या इसका कोई मालिक होता है । इंटरनेट का कोई मालिक नही है, इसका ओपन स्टैंडर्ड इसके सभी नेटवर्क को एक दूसरे से जोड़ता है । पूरी दुनिया के इंटरनेट से बहुत से नेटवर्क जुड़े होते है, जिनमे बहुत सी छोटी बड़ी कंपनियों, सर्विस प्रोवाइडर, प्राइवेट, पब्लिक, गवर्नमेंट और अन्य कई प्रकार की संस्थाओं के नेटवर्क शामिल होते है । यह नेटवर्क बहुत से फाइबर ऑप्टिक , वायरलेस, वायर नेटवर्क से कनेक्ट होते है । इस तरह इंटरनेट के द्वारा कोई भी कंटेंट देखा या शेयर किया जाता है और सर्विस ,प्रोडक्ट या सॉफ्टवेयर का उपयोग किया जाता है ।

इंटरनेट की खोज किसने की ? इंटरनेट का अविष्कार किसने किया ?

इंटरनेट की खोज या अविष्कार किसी एक व्यक्ति ने नही किया है , इसे बनाने में मदद और योगदान करने में बहुत से अलग अलग लोग शामिल रहे है , जिनके बारे में नीचे जानकारी दी गई है ।

इंटरनेट का इतिहास | History of Internet in Hindi

आज Internet Stats यानी इंटरनेट के आंकड़ों की माने तो दुनियाभर के 40 प्रतिशत जनसंख्या के पास आज इंटरनेट कनेक्शन उपलब्ध है । आज इंटरनेट उपयोगकर्ताओं की संख्या 4 बिलियन से ज्यादा हो चुकी है ।

आज के समय जो इंटरनेट हम चला रहे है , यह सबसे पहले 1960 के दशक में यूनाइटेड स्टेट में बनाना शुरू किया गया था ।

1960 में MIT के J.C.R. Licklider ने कंप्यूटर के Intergalactic Network के विचार को प्रस्तुत किया था ।

इंटरनेट के निर्माण का कार्य यूनाइटेड स्टेट के डिफेंस डिपार्टमेंट के द्वारा एक रिसर्च प्रोजेक्ट से शुरू हुआ । इसमें एक ऐसी तकनीक पर रिसर्च की जा रही थी, जिसके द्वारा न्यूक्लियर वॉर के हमले की स्थिति में सुरक्षित तरीके से जानकारी का आदान प्रदान किया जा सके ।

यूनाइटेड स्टेट डिपार्टमेंट ऑफ डिफेंस के द्वारा साइंस एंड टेक्नोलॉजी के अंतर्गत एक रिसर्च प्रोजेक्ट की शुरुआत की गई थी और एक एजेंसी ARPA ( Advanced Research Projects Agency ) बनाई गई थी ।

इस रिसर्च एजेंसी के Paul Baran ने Packet Switching Technology की अवधारणा प्रस्तुत की जिसमे जानकारी को ब्लॉक्स और पैकेट्स में विभाजित कर एक जगह से दूसरी जगह भेज सकते थे । हमले की स्थिति में यह इन्फॉर्मेशन पैकेट्स बिना रुके एक कंप्यूटर से दूसरे कंप्यूटर तक पहुच सकते थे। Packet Switching के द्वारा इलेक्ट्रॉनिक डेटा का ट्रांसमिशन आसानी से किया जा सकता था , जो आगे चलकर इंटरनेट का आधार बना ।

इसके बाद ARPANET का निर्माण किया गया । ARPANET का पूरा नाम Advanced Research Projects Agency Network था, यह U.S. Department of Defense के द्वारा लागत में बना था ।

ARPANET के अंदर शुरुआत में यूनाइटेड स्टेट की अलग अलग यूनिवर्सिटी और इंस्टिट्यूट के कंप्यूटर कनेक्ट किए गए थे ।

ARPANET अलग अलग कंप्यूटर को एक नेटवर्क पर संचार करने के लिए Packet Switching का उपयोग करता था । Packet Switching वह तकनीक थी, जिसके उपयोग के द्वारा उस समय के इंटरनेट पर सभी जानकारी का आदान प्रदान होता था।

इसके बाद वैज्ञानिक Robert E. Kahn और Vint Cerf ने Transmission Control Protocol और Internet Protocol या TCP/IP को बनाया। यह एक नया कम्युनिकेशन मॉडल था, जिसमे एक से ज्यादा नेटवर्क के बीच ट्रांसमिशन करने का एक स्टैंडर्ट सेट किया गया था ।

ARPANET ने 1983 में TCP / IP को अपना लिया, इसके बाद नेटवर्कों का नेटवर्क बनाने में शोधकर्ता लग गए और यह आगे चलकर धीरे धीरे आधुनिक इंटरनेट का रूप बन गया ।

इसके बाद ऑनलाइन दुनिया तब ज्यादा पहचान में आना शुरू हुई, जब कंप्यूटर वैज्ञानिक Tim Berners-Lee ने World Wide Web यानी www का अविष्कार किया । www के द्वारा ऑनलाइन डेटा को वेबसाइट और हाइपरलिंक के रूप में उपयोग किया जा सकता था । वेब ने इंटरनेट को आम लोगो के बीच लोकप्रिय किया ।

इंटरनेट के फायदे

दुनियाभर में इंटरनेट की मदद से बहुत से कार्य किए जाते है । इंटरनेट के फायदे बहुत से है , जिनमे से कुछ के बारे में नीचे बताया गया है ।

ऑनलाइन बिल का भुगतान घर बैठे किया जा सकता है । डेबिट कार्ड, क्रेडिट कार्ड या नेट बैंकिंग की मदद से बिल का ऑनलाइन पेमेंट कर सकते है ।

what is internet in hindi

सूचना या जानकारी को एक जगह से दूसरी जगह तेजी से भेज सकते है । ईमेल ,मैसेज ने जानकारी का आदान प्रदान सरल कर दिया है ।

जानिए » आईटी या इन्फॉर्मेशन टेक्नोलॉजी क्या है ?

इंटरनेट पर सोशल मीडिया के द्वारा अपने दोस्तों, रिश्तेदारों से जुड़ सकते है । अपने दोस्तों के संपर्क में रह सकते है, उनसे बात कर सकते है और उनके द्वारा साझा की गई जानकारी, फोटो, वीडियो को देख सकते है ।

हम इंटरनेट के जरिए अपने दोस्तो को वीडियो कॉलिंग कर सकते है और उन्हें देख सकते है ।

अपने स्मार्टफोन या कंप्यूटर के जरिए इंटरनेट पर जानकारी प्राप्त कर सकते है । सर्च इंजन जैसे गूगल पर इंटरनेट पर मौजूद बहुत सी जानकारी को देख सकते है ।

अपने मोबाइल फोन पर ताजा समाचार पढ़ सकते है । आज बहुत से न्यूज़ प्लेटफार्म इंटरनेट पर मौजूद है ,जो पल पल की खबरे तेजी से देते है ।

इंटरनेट से रेलवे, बस, फ्लाइट की टिकट बुक कर सकते है । आप अपने घर बैठे स्मार्टफोन या कंप्यूटर पर टिकट बुकिंग कर सकते है । इंटरनेट के द्वारा अपने आसपास के इवेंट या सिनेमाघर की टिकट भी बुक कर सकते है । किसी दूसरे शहर में जाने पर होटल की बुकिंग भी इंटरनेट से कर सकते है ।

आजकल इंटरनेट की मदद से अपने स्मार्टफोन से Food Order यानी खाना आर्डर कर सकते है और आपको कुछ ही देर में आसपास के रेस्टोरेंट से खाना पहुँचा दिया जाता है ।

ऑनलाइन शिक्षा प्राप्त कर सकते है ,आजकल बहुत सी वेबसाइट और Apps है जहाँ Online Education मिलता है । आप घर बैठे भी पढाई कर सकते है ।

इंटरनेट से ऑनलाइन शॉपिंग कर सकते है । आप इंटरनेट पर किसी प्रोडक्ट की कीमत को अलग अलग प्लेटफार्म पर चेक कर सकते है । प्रोडक्ट के बारे में लोगो के अनुभवों को जान सकते है, जिससे आपको सही प्रोडक्ट खरीदने में आसानी होती है ।

अपने व्यापार को बढ़ा सकते है । अपने Business की Advertising कर सकते है । सोशल मीडिया पर लोगो को अपने प्रोडक्ट या सर्विस की जानकारी दे सकते है ।

इंटरनेट पर नौकरी की जानकारी तेजी से पा सकते है । नई नई जॉब की अपडेट देख सकते है ।

इंटरनेट के द्वारा दुनिया में कही से भी काम सकते है । इंटरनेट के द्वारा वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग कर लाइव मीटिंग कर सकते है

इंटरनेट पर बहुत से मनोरंजन के साधन है । आज इंटरनेट पर यूट्यूब जैसे प्लेटफार्म उपलब्ध है, जहाँ पर मनोरंजन, ज्ञानवर्धक और सभी प्रकार के वीडियो देख सकते है । इंटरनेट पर मौजूद प्लेटफार्म जैसे Netflix, Amazon Prime पर बहुत सी वेबसीरीज देख कर मनोरंजन कर सकते है ।

इंटरनेट से नुकसान

इंटरनेट पर जरूरत से ज्यादा समय व्यतीत करने पर बहुत से लोगो का कीमती समय बर्बाद होता है । लोग अपने जरूरी काम छोड़कर इंटरनेट पर मौजूद प्लेटफॉर्म पर ही व्यस्त हो जाते है, जिससे उनकी कार्यक्षमता पर प्रभाव पड़ता है ।

लोगो को इंटरनेट की लत लग जाती है , जिसका स्वास्थ्य पर बुरा प्रभाव पड़ता है ।

इंटरनेट संचार का बहुत से लोगो द्वारा दुरुपयोग किया जाता है । इंटरनेट पर अश्लील सामग्रियों से लोगो पर बुरा प्रभाव पड़ता है ।

इंटरनेट के द्वारा हैकिंग और साइबर अटैक जैसे हमलों से बहुत नुकसान होता है । लोग इंटरनेट पर बहकावें में अपनी निजी जानकारी और जरूरी पासवर्ड शेयर कर देते है और ऑनलाइन फ्रॉड और स्पैम से बहुत से लोगो को ठग लिया जाता है ।

इंटरनेट पर गलत खबरे और अफवाहों बहुत फैलती है, जिसका शिकार कोई भी हो सकता है । लोग बिना कुछ समझे ही किसी भी झूठ को सच मान लेते है और अपना या दूसरों का नुकसान करते है ।

इंटरनेट का हिंदी में अर्थ | Internet Meaning in Hindi

इंटरनेट को हिंदी में अंतर्जाल कहा जाता है । इसका मतलब अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर एक जाल यानी नेटवर्क होता है ।

इंटरनेट का फुल फॉर्म क्या होता है ? Internet Full Form in Hindi

Internet का फुल फॉर्म ‘ Interconnected Network ‘ होता है ।

इंटरनेट वरदान या अभिशाप ?

इंटरनेट को सही तरीके से और अच्छे कामों के लिए इस्तेमाल करे तो इसके बहुत फायदे है, लेकिन अनियंत्रित तरीके से उपयोग करने पर यह आपकी एकाग्रता में रुकावट भी बन सकता है ।

उम्मीद है की आपको यह इंटरनेट की जानकारी पसंद आई होगी और यह अच्छी तरह समझ में आ गया होगा की इंटरनेट क्या है । इंटरनेट के बारे में आपके क्या विचार है , नीचे कमेंट में बताए ।

You may also like...