HNI का मतलब, फुल फॉर्म, शेयर मार्केट, आईपीओ – HNI Full Form, Meaning in Hindi

HNI या NII Investor की Category सभी Initial Public Offer यानी IPO में देखी जा सकती है । आज हम जानेंगे कि Share Market, IPO या Banking में HNI Investor Meaning या HNI का Full Form क्या होता है ।

बहुत से लोग Share Market में निवेश करते है और इसके साथ ही IPO में भी बहुत से निवेशकों की रुचि होती है । अगर आप किसी IPO के लिए Apply करते है तो IPO में Individual Investor के लिए Retail Category उपलब्ध होती है, जिसमे आप अपनी IPO Application भर सकते है ।

हालाँकि सभी IPO में कुछ अन्य Category भी दी होती है, जिसमे अलग अलग प्रकार के निवेशकों के लिए Shares Reserve होते है । IPO में निवेश करने वाले बहुत से लोगों के मन मे यह सवाल आता है कि IPO में HNI Investors क्या है, ये कौन होते है और HNI श्रेणी में IPO कैसे खरीदे जा सकते है । तो आइए HNI के बारे में विस्तार से जानते है ।

Hni investors meaning in ipo hindi

HNI का फुल फॉर्म क्या है ? – HNI Full Form in Hindi, Share Market

शेयर मार्केट या IPO में HNI का फुल फॉर्म High Net-worth Individual होता है, जो भारत मे IPO में निवेशकों की एक श्रेणी होती है । सभी आईपीओ में HNI Investors के लिए अलग Category उपलब्ध होती है, जिसमे HNI के लिए शेयर Reserve रहते है ।

आईपीओ में HNI Application को NII यानी Non-institutional Investors में गिना जाता है । सभी IPO में NII Category उपलब्ध होती है ।

HNI का मतलब क्या है ? – HNI Investors Meaning in Hindi

IPO के अंदर HNI Investors ऐसे Retail Investor को कहा जाता है, जो IPO में Rs. 2,00,000 से ज्यादा के Shares के लिए Apply करते है । यानी HNI Category के अंदर शुरुआती निवेश ही 2 लाख रुपये से ज्यादा होता है ।

कोई भी Individual किसी IPO के लिए एक साथ HNI Category और Retail Category में निवेश नही कर सकता है, बल्कि केवल एक Category में ही Apply कर सकता है ।

IPO में HNI Category के अंदर एक समान अनुपात (Proportionate Basis) में शेयर का Allotment किया जाता है । उदाहरण के लिए HNI Category में अगर कोई आईपीओ 10x Oversubscribe हुआ है और किसी HNI द्वारा 10 Lot पर Bid किया गया है, तो इस स्थिति में HNI को 1 Lot मिल जाता है ।

लेकिन HNI Category में अगर कोई आईपीओ Under-subscribed रह जाता है यानी 100% Subscribe नही हो पाता है, तो HNI को उनके द्वारा Bid किए गए संख्या में Lot या Shares प्राप्त हो जाते है ।

HNI Clients का मतलब क्या है ? – HNI Clients Meaning in Hindi 

किसी Financial Advisor के लिए HNI Clients का मतलब ऐसे High Net Worth Individual Clients होते है, जो अपनी Wealth को Invest करना चाहते है और इससे आय प्राप्त करना चाहते है । वित्तीय सलाहकार अपने HNI Clients के Investment Portfolio या Assets को Manage करते है । अपने निवेश को लेकर सभी HNI की अलग अलग आवश्यकताएं होती है ।

इसके अलावा Banks अपने ग्राहकों को अलग अलग श्रेणी में विभाजित करते है, जो बैंक के साथ उनकी आय और Assets के अनुसार होते है । इसमे HNI यानी High Net Individual श्रेणी भी होती है, जिन्हें बैंक अपनी कुछ Premium Banking Services भी Offer करते है ।

IPO के लिए HNI Category से Apply कैसे करते है ? 

किसी IPO Application को HNI Category से भरने के लिए आपको 2 लाख रुपए से ज्यादा का निवेश करना होगा ।

आमतौर पर HNI किसी आईपीओ में काफी ज्यादा Amount में पैसे निवेश करते है । इसके लिए कई बैंक, वित्तीय संस्थाएं या Broker आईपीओ में निवेश करने के लिए HNI को Funding या Loan भी प्रदान करते है ।

Retail Investor के लिए बहुत से Broker अपने प्लेटफॉर्म पर UPI Mandate भुगतान माध्यम के जरिए IPO Apply करने की सुविधा देते है, लेकिन HNI Category के लिए UPI Mandate के जरिए Apply नही किया जा सकता है ।

अगर आप HNI Category में किसी IPO में Bid करना चाहते है, तो इसके लिए NetBanking में ASBA सुविधा का उपयोग किया जा सकता है ।

इसके बाद बैंक अकाउंट से IPO की Amount को Block कर दिया जाता है और अगर Shares का Allotment मिलता है तो यह Amount बैंक अकाउंट से Debit हो जाती है ।

HNI Investor किसी IPO में Cut-off Price पर Bid नही कर सकते है । इसके अलावा HNI निवेशक कंपनी के द्वारा दिए जाने वाले किसी भी Discount के पात्र नही होते है ।

क्या Zerodha से HNI Category के लिए Apply किया जा सकता है ?

IPO में HNI Category के अंदर Zerodha के प्लेटफॉर्म पर उपलब्ध UPI Mandate प्रक्रिया के जरिए Apply नही किया जा सकता है । Zerodha Console के जरिए केवल Retail Investor ही IPO Application भर सकते है, जिनकी Application 2 लाख रुपए से कम होती है ।

Share