Beta Version क्या है ? बीटा का अर्थ – Beta Version Meaning in Hindi

 

Beta Version क्या है ? आजकल बहुत सी एप या प्रोग्राम के बीटा वर्जन आते रहते है । Beta का मतलब और Beta Program के बारे में यहाँ जानकारी दी गई है ।

हम अपने स्मार्टफोन में बहुत सी Apps का उपयोग करते है और इन एप में बहुत से उपयोगी फीचर्स दिए जाते है । लेकिन आपने यह देखा होगा की कोई एप जैसे की WhatsApp या कोई Games द्वारा अपने नए फीचर्स पहले एक Beta Version या Beta App में रिलीज किए जाते है ।

आखिर किसी सॉफ्टवेयर के Beta Program, Beta Phase या Beta Version का मतलब क्या होता है और Whatsapp Beta Version क्या है ? आइए इसके बारे में जानते है ।

Bera version meaning in hindi

Beta Version क्या होता है ? 

Beta Version का मतलब किसी प्रोग्राम या ऍप्लिकेशन का एक पहला वर्शन होता है जिसमे बहुत से नए फीचर्स होते है, लेकिन यह पूरे नही होते है । कभी कभी यह वर्शन केवल कुछ चुनिंदा लोगो के लिए उपलब्ध होता है या आम लोगो के लिए उपलब्ध होते है । यह वर्शन आमतौर पर Testing करने और सुझावों (feedback) को पाने के लिए दिए जाते है ।

Beta Version Meaning in Hindi

यह डेवेलपमेंट में दूसरी बड़ी प्रक्रिया होती है, जो पूरी तरह रिलीज करने के पहले होती है । यानी यह किसी प्रोडक्ट या Software के सामान्य रिलीज के पहले का (Pre-Release) वर्शन होता है जो लोगो के एक बड़े समूह को उपयोग करके देखने के लिए दिया जाता है ।

यह बीटा टेस्टिंग से पहले अल्फा टेस्टिंग से होकर गुजरता है, जो दिखने में सामान्य लगता है और फाइनल प्रोडक्ट की तरह लगता है । इसमें डिजाइन में बदलाव होते रहता है। यह Alpha Testing प्रोडक्ट की उपयोगिता की जांच के लिए Developers द्वारा ही की जाती है ।

सॉफ्टवेयर के निर्माण के साथ बीटा टेस्टिंग भी जरूर की जाती है, क्योकि डेवेलोपर्स अपने प्रोडक्ट के बहुत पास में होते है । कोई कंपनी या डेवेलपर आमतौर पर तब बीटा वर्शन रिलीज करते है जब उनका प्रोडक्ट फीचर्स के साथ तैयार होता है लेकिन इसमें कुछ Bug हो सकते है । ये बग तभी दिख पाते है जब इन्हें बड़ी संख्या में यूजर उपयोग करते है ।

यह भी जानिए –

» Bug का मतलब क्या होता है ?

Beta Testing क्या होती है ?

Beta Testing का प्रमुख उद्देश्य अलग अलग समूह के उपभोक्ताओं से सुझाव लेने के साथ, विभिन्न प्रकार के नेटवर्क और हार्डवेयर पर अपने प्रोडक्ट की योग्यता का परीक्षण करना होता है।

सामान्यतः बीटा फेज में कोई प्रोडक्ट बहुत से Bug या सिस्टम में खामियां लिए होता है । इसके बाद इस पर काम किया जाता है, सुधार किया जाता है और एक साफ परिणाम के रूप में वास्तविक प्रोडक्ट लांच किया जाता है ।

Beta Phase के बिना सीधे प्रोडक्ट लॉन्च कर देने से कुछ परफॉर्मेंस से संबंधित या अन्य समस्याएं आ सकती है । जिससे यूजर की ओर से नकारात्मक प्रतिक्रियाएं मिल सकती है । इसीलिए पहले बीटा वर्शन रिलीज किया जाता है ।

WhatsApp का Beta Version क्या होता है ?

व्हाट्सएप बीटा वर्शन व्हाट्सएप के द्वारा ही डेवलप किया एक वर्शन होता है जिसमे कुछ नए फीचर्स को टेस्ट के लिए उपलब्ध किया जाता है । व्हाट्सएप के इस बीटा वर्शन में ऐसे फीचर्स होते है जो सामान्य व्हाट्सएप वर्शन में पहले रिलीज नही किए जाते ।

इन नए फीचर की टेस्टिंग करने के लिए WhatsApp Beta Version रिलीज किया जाता है । यूजर या बीटा टेस्टर इस व्हाट्सएप बीटा वर्शन को उपयोग कर अपने सुझाव डेवेलोपर्स से साझा करते है ।

WhatsApp Beta Version को प्लेस्टोर से Beta Tester के लिए रजिस्टर करके डाउनलोड किया जा सकता है । इससे आपको किसी एप या गेम के Beta Version के रूप में Early Access मिल जाता है ।

उम्मीद है आपको यह जानकारी मिल गई होगी की बीटा वर्शन क्या है । किसी अन्य जानकारी या सवाल के लिए आप नीचे कमेंट कर सकते है ।

Share

You may also like...