QIP क्या होता है ? शेयर मार्केट – QIP Meaning in Share Market

QIP क्या होता है या QIP का Full Form क्या होता है, यह सवाल Share Market में निवेश करने वाले कई लोगों के मन आता है । आपने IPO के बारे में सुना होगा, आजकल कई कंपनियों के आईपीओ आते है, लेकिन कई Institution अपने QIP भी लेकर आ रहे है । Stock Market में यह QIP क्या है इसके बारे में आज हम आपको बताने जा रहे है ।

आमतौर पर यह देखा जाता है कि किसी कंपनी या Institution द्वारा QIP लाया जाता है, जिसके बारे में काफी खबरे आती रहती है । Share Market में कई सारे लोग निवेश करते है, लेकिन कई लोगों को यह जानकारी नही होती है कि QIP का मतलब क्या होता है, तो आइए अब शुरुआत से QIP के बारे में जानते है ।

QIP in share market QIP kya hai

QIP का मतलब क्या होता है ? – QIP Full Form, Meaning in Hindi

QIP का फुल फॉर्म Qualified Institutional Placement होता है, जो बाजार में Listed कंपनियों के लिए Fund यानी पूँजी जुटाने का एक माध्यम होता है । QIP के जरिए पूँजी जुटाने के लिए कंपनियों द्वारा QIB यानी Qualified Institutional Buyers को Equity Shares या Securities Issue कराई जाती है ।

SEBI द्वारा QIP प्रक्रिया की शुरूआत 2006 में कई गई थी, जिसका उद्देश्य घरेलू बाजार से पूँजी जुटाने को आसान बनाना था । इस प्रक्रिया के शुरू होने से पहले कंपनियों के लिए घरेलु बाजार से पूंजी जुटाने में कई जटिलताएं शामिल होती थी, जिसके चलते आमतौर पर कंपनियां Funds जुटाने के लिए विदेशी बाजार पर निर्भर रहती थी ।

इसके बाद कंपनियों की विदेशी बाजार पर इस प्रकार की निर्भरता को कम करने के लिए QIP की शुरूआत की गई थी ।

QIP में Shares कौन खरीदते है ? 

जब किसी कंपनी द्वारा अपना QIP लाया जाता है, तो इस प्रक्रिया में Qualified Institutional Buyers खरीददारों के रूप में शामिल होते है, जो SEBI के साथ रजिस्टर होते है ।

QIP में Institutional Buyers से Capital जुटाया जाता है । इसमें काफी कम जटिलताएँ होती है, जिससे पूँजी जुटाने की प्रक्रिया आसान और तेज हो जाती है ।

QIP में Floor Price का मतलब – Floor Price Meaning in Hindi

किसी कंपनी के QIP में प्रति Equity Shares के अनुसार एक Floor Price तय किया जाता है । Floor Price किसी QIP Issue के Offer की एक न्यूनतम कीमत सीमा या Minimum Price Set होता है ।

QIP और IPO में अंतर क्या है ? – Differences Between QIP and IPO

किसी कंपनी के QIP और IPO के बीच कुछ सामान्य अंतर इस प्रकार है –

आमतौर पर जो कंपनियां Stock Exchange पर पहले से ही Listed होती है, उनके द्वारा Fund जुटाने के लिए अपना QIP लाया जाता है । लेकिन अगर IPO की बात करे, तो IPO ऐसी कंपनियों द्वारा लाया जाता है, जो Stock Exchange पर पहली बार ही List होने जा रही है ।

आप Stock Broker के जरिए किसी भी IPO Issue में आसानी से निवेश कर सकते है । लेकिन QIP Issue में सभी लोग निवेश नही कर सकते है क्योंकि QIP में केवल Qualified Institutional Buyers ही शामिल हो सकते है । लेकिन वही IPO में निवेश करने के लिए QIB, HNI Investors, RII आदि प्रकार के निवेशक शामिल हो सकते है ।

Share